लंदन । हाल ही में हुए एक शोध यह सामने आया कि  बेडरूम की दीवारों के रंग और आप कितना सेक्स करते हैं इसके बीच पारस्परिक संबंध है। ज्यादातर लोग रेड और पिंक कलर को अंतरंगता और यौन संबंध से जोड़कर देखते हैं लेकिन आपको जानकर हैरानी होगी कि ये वे कलर्स नहीं हैं जो बेडरूम में उत्तेजना को जगाते हैं। स्टडी के नतीजे बताते हैं कि ज्यादातर लोगों को शांति का अहसास कर चैन की नींद नीले रंग के बेडरूम में आती है। स्टडी में पाया गया कि जिन कपल्स के रूम में नीली दीवारों के साथ कैरमल कलर का डेकॉर लगा हो वे औसतन हर सप्ताह 3 बार सेक्स करते हैं। रात को सबसे अच्छी नींद देने के मामले में ब्लू के बाद येलो कलर दूसरे नंबर पर आता है। वैसे लोग जिनके बेडरूम की दीवारों का रंग पीला होता है वे हर रात औसतन 7 घंटा 40 मिनट सोते हैं। वॉर्म येलो कलर शरीर के नर्वस सिस्टम को रिलैक्स कर बॉडी को शांत करता है। पर्पल कलर लग्जरी, क्वॉलिटी, धन-दौलत का प्रतीक है और इन सबको मिला दिया जाए तो नजदीकियां बढ़ती हैं। 
ऐसे में अगर आप भी अपनी सेक्स लाइफ में पैशन जगाना चाहते हैं तो आपको अपने बेडरूम की दीवारों पर पर्पल कलर का पेंट करना चाहिए। अगर आप अपने बेडरूम की दीवारों का रंग नहीं बदल सकते तो पर्पल कलर के पर्दे, चादर, पिलो कवर इन सारी चीजों की खरीददारी करें और फिर देखें कि आपके बेडरूम में कैसा जादू होता है। आपको जानकर हैरानी होगी कि ऑनलाइन मार्केट में बिकने वाले ज्यादातर सेक्स टॉयज भी पर्पल कलर के या पर्पल के अलग-अलग शेड्स के होते हैं। इस नई स्टडी के मुताबिक जिन लोगों ने अपने बेडरूम को पर्पल कलर से डेकोरेट किया उनकी सेक्स लाइफ बेहद ऐक्टिव थी। ब्रिटेन के 2 हजार वयस्कों पर किए गए सर्वे के नतीजे बताते हैं कि जिन लोगों ने अपने बेडरूम को पर्पल कलर के फर्नीचर या बेडिंग से सजाया उन्होंने हर सप्ताह 4 बार ज्यादा सेक्स किया। अगर आपकी भी सेक्स लाईफ ठीक नहीं चल रही है तो अपनी और पार्टनर की गलतियां ढूंढने की बजाए आपको अपनी दीवारों के रंग पर भी ध्यान देना चाहिए। हो सकता है इससे आपकी जीवन में भी सकारात्मक बदलाव आ जाए।