हॉस्पिटल की बेशकीमती जमीन पर कब्जा भी किया
घोड़ाडोंगरी। नगर के दो फर्जी पत्रकारों द्वारा प्रशासनिक अधिकारियों के नाम से लोगों को धमका कर उगाही करने का मामला सुर्खियों में आया है। इनमे से एक फर्जी पत्रकार द्वारा नगर के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र की बेशकीमती जमीन पर कब्जा कर अवैध रूप से मकान भी बनाया गया है। इस अवैध मकान को तुड़वाने और कब्जा करने वाले पर प्रकरण दर्ज करने को लेकर जागरूक नागरिक क्लेक्टर से भी मिलने वाले हैं। एक पीड़ित ने khabarmantri.com को बताया कि घोड़ाडोंगरी के यह दो फर्जी पत्रकार पत्रकारिता की आड़ में लोगो को ब्लैकमेल करने का काम कर रहे हैं। इनमें से एक व्यक्ति द्वारा घोड़ाडोंगरी हॉस्पिटल की लगभग 15 लाख से अधिक कीमत की जमीन पर अवैध कब्जा कर मकान बना रखा है। यह मामला उस समय प्रकाश में आया जब कुछ दिनों पूर्व इन फर्जी पत्रकारों द्वारा घोड़ाडोंगरी के ट्रैक्टर संचालक परमजीत सिंह छाबड़ा (सिटी) को ब्लैकमेल करने की कोशिश की गई । इस मामले में ट्रैक्टर संचालक छाबड़ा ने भी इस फर्जी पत्रकार द्वारा हॉस्पिटल की शासकीय जमीन पर अवैध कब्जे का मामला सोशल मीडिया पर जमकर उठाया था। इस मामले में इन फर्जी पत्रकारों द्वारा ट्रैक्टर संचालक छाबड़ा को इस कदर ब्लैकमेल किया गया कि तंग आकर उसने आत्महत्या करने की धमकी सोशल मीडिया पर ही दे डाली। इस धमकी के बाद ब्लैकमेलर पत्रकारों की घिग्घी बंध गई और इस मामले से हाथ पीछे खींच लिए। गौरतलब है कि इस मामले में तो इन ब्लैकमेलरों द्वारा हाथ पीछे खींच लिए गए लेकिन अन्य संस्थानों पर अड़ी डालने का क्रम बदस्तूर जारी है।

अधिकारीयों से संबंधों की धमकी देकर करते हैं ब्लैकमेल

ये फर्जी पत्रकार आए दिन प्रशासनिक अधिकारियों से अपने संबंधों का हवाला देकर लोगों पर अड़ी डालते हैं। अपना स्वार्थ सिद्ध नहीं होने पर यह फर्जी पत्रकार प्रशासनिक अधिकारियों को गुमराह कर लोगों पर दबाव बनाने का काम करते हैं। इन फर्जी पत्रकारों द्वारा मुज्जी ढूँढ कर अड़ी डालने के मामले और भी हैं जिनकी पड़ताल khabarmantri.com की टीम द्वारा की जा रही है। इनके मामले में शीघ्र ही बड़े खुलासे होने की उम्मीद भी जताई जा रही है। पीड़ित लोगों ने इस मामले की शिकायत मध्यप्रदेश श्रमजीवी पत्रकार संघ के संभागीय अध्यक्ष अब्दुल रहमान और संभागीय उपाध्यक्ष विशाल बत्रा तक भी पहुंचाई है। पत्रकार संघ ने भी इस मामले को संज्ञान में लिया है, और शीघ्र ही आधिकारिक स्तर पर इस मामले को उठाने की तैयारी की है। संघ के संभागीय उपाध्यक्ष विशाल बत्रा ने आम नागरिक और अधिकारियों से अपील की है कि कोई भी इन फर्जी पत्रकारों के दबाव में ना आए। अगर ऐसे लोग किसी पर भी अड़ी डालने की कोशिश करें तो वह हमारे संघ से संपर्क कर सकता है, हम ऐसे ब्लेकमेलर्स पर कार्यवाही करवाएंगे।

अधिकारियों का कहना

हॉस्पिटल की जमीन से कब्जा हटाने के लिए SDM साहब को पत्र लिखा हैं, उन्होंने आचार संहिता हटते हो कार्यवाही शुरू करने का आश्वासन दिया है।

डॉ संजीव शर्मा, BMO, घोड़ाडोंगरी

हॉस्पिटल प्रशासन से पूर्व में चर्चा हुई थी, उनसे कब्जे के जानकारी और कब्जा करने वालों के नाम मांगे थे जो अभी नहीं मिले हैं. हॉस्पिटल की और से सूचि मिलने पर अतिक्रमण हटा दिया जाएगा. 

सत्यनारायण सोनी, तहसीलदार 

 

 

 

 

न्यूज़ सोर्स : Khabarmantri Reporter