कमिश्नर-आईजी, कलेक्टर-एसपी पहुंचे डुलारा गांव

खबरमंत्री रिपोर्टर, घोड़ाडोंगरी 
       अवैध कोयला खनन कर करोड़ों के वारे-न्यारे कर रहे कोल माफिया पर नकेल कसने के लिए प्रशासन के उच्च स्तर से बड़ी कार्यवाही की तैयारी है। इसके संकेत शुक्रवार को उस समय मिले जब पहली बार संभाग के कमिश्नर और पुलिस महानिरीक्षक संयुक्त रूप से जिले के कलेक्टर-एसपी को साथ ले अवैध कोयला खदानों के निरीक्षण हेतु डुलारा गांव पहुंच गए। हालांकि कोल माफिया के नेटवर्क की बानगी भी देखिए कि अधिकारियों के पहुंचने के पहले ही कोयला खदानों पर सन्नाटा पसर चुका था। वहां कोई व्यक्ति अवैध खनन करता नहीं मिला। डुलारा पहुंचे कमिश्नर रविंद्र मिश्रा, आईजी मकरंद देउस्कर ने अवैध कोयला खदानों का निरीक्षण किया। पता चला है कि अवैध खदान विकसित करने का तरीका देख कर उच्चाधिकारी हैरान रहे गए। उन्होने डुलारा गांव में तवा किनारे किए जा रहे अवैध उत्खनन के चप्पे चप्पे का मुआयना किया। इस दौरान कलेक्टर तरूण पिथोड़े, एसपी कार्तिकेयन के., शाहपुर एसडीएम पियुष भट्ट, एसडीओपी सारनी महेंद्र सिंह बडग़ूजर, सारनी टीआई महेंद्र सिंह चौहान, घोड़ाडोंगरी तहसीलदार सत्यानारायण सोनी, चोपना थाना प्रभारी गोविंद सिंह राजपूत सहित भारी भरकम पुलिस बल एवं अन्य विभागों का शासकीय अमला भी साथ था। अधिकारियों के भारी भरकम काफिले को मुख्य मार्ग से डुलारा की ओर मुड़ते देख कर देखने वालों को किसी बड़ी कार्यवाही का अंदेशा हुआ लेकिन अवैध खदानों पर सन्नाटा पसरा होने के कारण यह कार्यवाही ना होकर निरीक्षण ही साबित हुआ। बहरहाल आज भले ही अधिकारियों का काफिला मात्र निरीक्षण कर लौट गया है लेकिन आने वाले दिनों में किसी ना किसी बड़ी कार्यवाही के शुरूआती संकेत जरूर मिले हैं। निरीक्षण के बाद आईजी मकरंग देउस्कर घोड़ाडोंगरी पुलिस चौकी पहुंचे जहां बैठकर उन्होने विभागीय अधिकारियों से कानून व्यवस्था के संबंध में चर्चा की जबकि कमिश्नर रविंद्र मिश्रा कलेक्टर के साथ बैतूल की ओर रवाना हो गए। 


निरीक्षण पूर्व पाथाखेड़ा रेस्टहाउस में ली अधिकारियों की बैठक
    डुलारा गांव में कोयले की अवैध खदानों के निरीक्षण के लिए रवाना होने से पूर्व कमिश्नर-आईजी, कलेक्टर-एसपी के साथ पाथाखेड़ा पहुंचे जहां विभिन्न विभागों के विभागों से अधिकारियों को तलब किया गया था। सभी अधिकारियों के साथ कमिश्नर-आईजी ने पाथाखेड़ा रेस्टहाउस में एक महत्वपूर्ण बैठक की। बैठक में क्षेत्र में चल रही कोयला एवं रेत की अवैध खनन गतिविधियों की जानकारी ली गई। सामने आई जानकारियों के एक-एक बिंदुओं को कमिश्नर-आईजी ने गंभीरता से नोट किया। बैठक में जिले में चल रही योजनओं की समीक्षा भी की गई। विभिन्न विभागों के प्रमुखों से योजनाओं के क्रियान्वयन की जानकारी भी ली गई। 

न्यूज़ सोर्स : Khabarmantri Reporter