बेंगलुरु । युवा बल्लेबाज मयंक अग्रवाल ने कहा है कि पूर्व कप्तान राहुल द्रविड़ ने हमेशा से ही उनका हौंसला बढ़ाया है। मयंक ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 2018-19 की सीरीज में मेलबर्न क्रिकेट मैदान पर पदार्पण किया था। उन्होंने संजय मांजरेकर को एक वीडियोकास्ट में कहा, 'मैं रन बना रहा था। रणजी सत्र और भारत-ए के लिए भी काफी रन बनाए थे। मैंने राहुल भाई से बात की। मैंने बताया कि टीम में नहीं चुने जाने से निराश हो रहा हूं।’ उन्होंने कहा, ‘मुझे अच्छे से तब राहुल भाई ने कहा था कि मयंक ये चीजें तुम्हारे हाथ में नहीं हैं। तुमने मेहनत की और यहां तक पहुंचे। चयन तुम्हारे हाथ में नहीं है। मैं पूरी तरह से उनसे सहमत हूं। ये बातें सैद्धांतिक रूप से समझ में तो आती हैं पर व्यावहारिक तौर पर इन्हें समझना कठिन होता है।’ मयंक ने कहा, ‘उन्होंने कहा था कि आने वाला समय पिछले से अलग नहीं होगा। वहीं अगर नकारात्मक सोच के साथ खेलोगे तो नुकसान तुम्हारा ही होगा। मुझे अभी भी उनकी बात याद है जो मेरे लिए प्रेरणा बनी।’ उसी कारण मैं आगे भी प्रयास करता रहा जिससे मुझे आंखिरकार टीम में आने का अवसर मिल गया।